Breaking News

नीतीश कुमार की दो टूक: JDU-BJP की दोस्ती स्वीकारें शरद यादव, या फिर अलग रास्ता चुनें


बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि जनता दल (युनाइटेड) के वरिष्ठ नेता शरद यादव अपना रास्ता चुनने के लिए स्वतंत्र हैं। नीतीश का यह बयान शरद यादव द्वारा बिहार में जद (यू) और भाजपा के गठबंधन के खिलाफ नाराजगी जताए जाने के बाद आया है। जनता दल यूनाईटेड के दो योद्धाओं के बीच चल रहे मनमुटाव पर नीतीश ने कहा कि शरद यादव को या तो जेडीयू बीजेपी की दोस्ती को स्वीकार करना चाहिए, अथवा उन्हें अपना अलग रास्ता चुन लेना चाहिए। नीतीश ने दिल्ली संसद के बाहर संवाददाताओं से कहा, “पार्टी ने आम सहमति से फैसला लिया। वह (शरद यादव) अपना रास्ता चुनने के लिए स्वतंत्र हैं।” इससे पहले शरद यादव ने दिल्ली से पटना पहुंचने पर हवाईअड्डे पर संवाददाताओं से कहा था कि वह अब भी महागठबंधन के साथ हैं, जिसे बिहार की 11 करोड़ जनता ने 2015 के विधानसभा चुनाव में पांच साल शासन का जनादेश दिया था।जद (यू) के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कांग्रेस तथा राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के साथ अपनी पार्टी को मिलाकर बने 20 माह पुराने महागठबंधन से अलग होते हुए 26 जुलाई को मुख्यंमत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।



अगले ही दिन 27 जुलाई को उन्होंने एक बार फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई। जद (यू) अध्यक्ष ने दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और बिहार के विकास से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की। बिहार में बीजेपी के साथ सरकार बनाने के बाद नीतीश कुमार की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से ये पहली मुलाकात है। उन्होंने कहा कि वह इस माह एक विस्तृत मुलाकात के लिए फिर यहां आएंगे। इसके अलावा नीतीश कुमार ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी मुलाकात की।



बता दें कि शरद यादव इस वक्त बिहार में जनता से सीधा संवाद कर रहे हैं। शरद यादव ने गुरुवार को कहा था कि बीजेपी के साथ सरकार बनाकर नीतीश कुमार ने बिहार के 11 करोड़ लोगों का भरोसा तोड़ा है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ‘सरकारी जेडीयू’ चला रहे हैं, जबकि असली जेडीयू आम जनता है जो उनके साथ है। इधर जेडीयू प्रवक्ता केसी त्यागी ने चेतावनी भरे लहजे में कहा था शरद यादव मर्यादा का पालन करें, और उन्हें जो कुछ भी कहना है पार्टी फोरम में कहें। अब सबकी निगाहें पटना में 19 अगस्त को होने वाली जेडीयू कार्यकारिणी की बैठक पर लगी है।

No comments