Breaking News

तमिलनाडु: महिला बीजेपी नेता के खिलाफ पोस्ट किया अश्लील कार्टून, VCK नेता गिरफ्तार

पुलिस ने तमिलनाडु की बीजेपी अध्यक्ष तमिलिसाई सौंदरराजन के खिलाफ फेसबुक पर अश्लील कार्टून पोस्ट करने के आरोप में विदुथालाई चुरुथाईगल काची (वीसीके) के पब्लिक रिलेशन ऑफिसर बी पुथियावन को गिरफ्तार किया है। वीकेसी के कार्यकर्ता की गिरफ्तारी बीजेपी की एससी/एसटी विंग के द्वारा गुरुवार को की गई शिकायत के आधार पर हुई। टाइम्स ऑफ इंडिया (टीओआई) के मुताबिक बीजेपी एससी/एसटी सेल के अधिकारी पालानियअमाल ने कुड्डालोर जिले के पुलिस सुपरिटेंडेंट सी विजयकुमार से पुथियावन के खिलाफ शिकायत की थी। पुथियावन पर पालानियअमाल ने आरोप लगाया था कि उन्होंने बीजेपी की स्टेट चीफ के खिलाफ अश्लील टिप्पणी की थी। पुथियावन ने एक कार्टून पोस्ट करते हुए तमिलिसाई का अपमान किया था।

एसपी ने पुथियावन के खिलाफ की गई इस शिकायत को आगे बढ़ाते हुए कुड्डालोर न्यू टाउन पुलिस स्टेशन के पास भेजा था, जिसके बाद वीसीके कार्यकर्ता को गिरफ्तार किया गया। पुथियावन की गिरफ्तारी इंडियन पैनल कोड की धारा 354 (किसी महिला की मर्यादा को भंग करने के लिए उस पर हमला या जोर जबरदस्ती करना), 506 (आपराधिक अभित्रास के लिए दण्ड), सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम और तमिलनाडु महिला उत्पीड़न अधिनियम के तहत की गई। पुलिस ने शुक्रवार को पुथियावन को कोर्ट में पेश किया, जिसके बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

बता दें कि वीकेसी के कार्यकर्ता पिछले कई दिनों से बीजेपी प्रेसिडेंट तमिलिसाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। तमिलिसाई ने वीकेसी लीडर थोल थिरुमावलवन पर जमीन प्रॉपर्टी को लेकर कड़े आरोप लगाए थे और कड़ा विरोध किया था, जिसके बाद से ही वीकेसी के कार्यकर्ता तमिलिसाई का विरोध कर रहे हैं। पुथियावन की गिरफ्तारी के बाद वीसीके कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को अपने नेता की रिहाई के लिए प्रदर्शन किया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक तमिलिसाई को फिल्म मेर्सल विवाद को लेकर भी फोन में धमकियां मिल रही थीं। तमिलिसाई ने ही फिल्म में जीएसटी और नोटबंदी को गलत तरीके से दिखाने की बात कही थी। सुंदरराजन ने कहा था कि विजय अभिनीत मूवी मेर्सल में जीएसटी पर ‘गलत जानकारी’ दी गई है। उन्होंने कहा, ‘मूवी में जीएसटी के बारे में गलत जानकारी दी गई है। सेलेब्स को लोगों के बीच गलत जानकारी देने से बचना चाहिए। अपने विचार रखना उनका अधिकार है, लेकिन हिंदू धर्म, डिजिटल ट्रांजेक्शन, नोटबंदी और जीएसटी के बारे में गलती जानकारी देने की हम लोग निंदा करते हैं।’ उन्होंने कहा कि ऐसी जानकारी लोगों को गुमराह करती हैं।

No comments