Breaking News

30 जनवरी को भारतीय मूल की यह अमेरिकी सांसद राष्ट्रपति ट्रंप के सालाना संबोधन का करेंगी बहिष्कार

भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीतियों और आव्रजकों के प्रति उनके आचरण के विरोध में उनके ‘स्टेट आॅफ यूनियन’ संबोधन का बहिष्कार करने का ऐलान किया है। ‘स्टेट आॅफ यूनियन’ वह सालाना संबोधन है जो अमेरिकी राष्ट्रपति कांग्रेस के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र में देते हैं। इसमें बजट, देश की आर्थिक रिपोर्ट, राष्ट्रपति का विधायी एजेंडा तथा राष्ट्रीय प्राथमिकताएं शामिल होती हैं। 52 वर्षीय प्रमिला अब कांग्रेस सदस्य जॉन लेविस, फ्रेडरिक विल्सन, मैक्जाइन वाटर्स तथा अर्ल ब्लूमेनुएर सहित उन आधा दर्जन से अधिक डेमोक्रेटिक सांसदों के समूह में शामिल हो गई हैं जो 30 जनवरी को ट्रंप के ‘स्टेट आॅफ यूनियन’ में शामिल नहीं होंगी।

प्रमिला ने एक बयान में बताया, ‘‘मैं इस साल ‘स्टेट आॅफ यूनियन ’ में शामिल नहीं होऊंगी। मैं उन लोगों में से हूं जो ऐसे राष्ट्रपति को महिमा मंडित नहीं करना चाहते जिन्होंने ओवल कार्यालय के मंच का उपयोग नस्लवाद, लिंगभेद तथा नफरत को बढ़ावा देने के लिए किया।’’ उन्होंने बयान में हैती तथा अन्य अफ्रीकी देशों की ट्रंप द्वारा हाल ही में कथित आपत्तिजनक शब्दों में निंदा किए जाने का भी जिक्र किया।

प्रमिला के अनुसार, वह ट्रंप की संकीर्ण तथा आत्म केंद्रित सोच से सहमत नहीं हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति ने लगातार संकेत दिया है कि एकजुट देश की अगुवाई करने में उनकी कोई दिलचस्पी नहीं है। वह अपने छोटे और कम होते मतदाता आधार को बढ़ाने के लिए ऐसी भाषा का इस्तेमाल करते हैं जो अपने ही देश के लोगों के सामने और दुनिया भर में देश की गरिमा पर आघात करती है।

via Manju Raj Patrika

No comments