Breaking News

मेडिकल स्‍टूडेंट ने की आत्‍महत्‍या, सुसाइड नोट में लिखा, ‘सॉरी पापा, मैं लड़ते-लड़ते थक गई हूं’

जमशेदपुर : सरायकेला-खरसावां के आदित्यपुर की रहने वाली एक मेडिकल स्‍टूडेंट ने शुक्रवार को केरल के कोच्चि में एक होटल में पंखे से लटककर आत्‍महत्‍या कर ली. मृतका की पहचान ममता राय (27 वर्ष) के रूप में हुई है. होटल के कमरे से एक सुसाइड नोट भी मिला है. पुलिस ने ममता की अस्वाभाविक मौत का केस दर्ज किया है.

ममता दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (एम्स) से डर्मेटोलॉजी (चर्म रोग) में पोस्ट ग्रेजुएट की पढ़ाई कर रही थीं. वह एकेडमिक कॉन्‍फ्रेंस में हिस्सा लेने कोच्चि गई थीं. कोच्चि पुलिस के सब इंस्पेक्टर जोसेफ साजन ने बताया कि ममता को स्थानीय अस्पताल में मृत अवस्था में ले जाया गया था. होटल के कमरे से सुसाइड नोट के साथ डिप्रेशन की दवा भी मिली. वह दिल्ली से 18 जनवरी को कोच्चि आई थीं. उनका कमरा 17 से 22 जनवरी तक बुक था. पुलिस के अनुसार घटना के वक्त ममता की रूममेट बाहर गई थी. जब वह लौटी तो कमरे में ममता को फंदे से लटका देख शोर मचाया. इसके बाद उसे फंदे से उतारा गया.

होटल के रूम से सुसाइड नोट बरामद:

ममता के कमरे से सुसाइड नोट मिला है. इसमें लिखा है, ‘मैं डिप्रेशन की मरीज हूं. मैं लड़ते-लड़ते थक गई हूं. मैं क्विट कर रही हूं. सॉरी पापा’. ममता के पिता के अनुसार, कोच्चि से उसके रूममेट ने सुबह साढ़े नौ बजे फोन कर बताया कि ममता की तबीयत ठीक नहीं है और उसे अस्पताल जा रहे हैं. थोड़ी देर में फिर फोन आया कि ‘ममता की मौत हो गई है. आप लोग जल्दी आ जाइए’. इसके बाद डॉ. ममता के भाई और अन्य करीबी लोग रांची होते हुए शुक्रवार की रात 10 बजे कोच्चि पहुंचे. सरायकेला-खरसावां में जब परिजनों के ममता के आत्महत्या की खबर मिली तब से यहां रहने वाली माता-पिता की स्थिति काफी खराब है. फिलहाल आसपास के लोग आदित्यपुर स्थित मृतिका डॉक्टर के आवास पर जुटे हुए है.

भाई ने लगाया हत्या का आरोप:

ममता के भाई ने कहा कि हत्या की गई है. कोच्चि पहुंचे ममता के भाई अमित ने पुलिस से कहा कि उनकी बहन की हत्या हुई है. वह हर क्षेत्र में टॉपर थी. उससे उसके सहपाठी जलते थे. उन्हीं लोगों ने उसे मारा है. उसके शरीर पर चोट के निशान हैं. सब इंस्पेक्टर जोसेफ साजन का कहना है कि सुसाइड नोट से सब साफ है, लेकिन यदि कोई हत्या करने का आरोप लगा रहा है तो उसकी जांच की जाएगी.

via Manju Raj Patrika

No comments