Breaking News

हमारी विज्ञापन में महिला की छवि ऐसी क्यों

आज कल विज्ञापनों में महिला को दिखाया जाता है. इस पर लगातार प्रश्न पूछना चाहिए। इस में खास तरह की पुरुष वादी नजरिया दीखता है चाहे पानी हो कार हो या और दुसो तरह की वस्तु।

आज कल विज्ञापनों में महिला को दिखाया जाता है. इस पर लगातार प्रश्न पूछना चाहिए। इस में खास तरह की पुरुष वादी नजरिया दीखता है चाहे पानी हो कार हो या और दुसो तरह की वस्तु। इस तरह की विज्ञापन में महिला की समझदारी को सिर्फ सेक्स तक सिमित कर दिया जाता है । इस तरह की विज्ञापन सिर्फ अश्लिता का प्रचार कर रहे है तुम इसका इस्तमाल करो लड़की मिल जायेंगी और इस तरह की विज्ञापन भारत के महसूर अभिनेता अभिनेत्री क्रिकेटर तथा अन्य खेल के भी महिला परुष ख़िलाड़ी कर रहे हैं ।

जब इस देश में महिला हिंशा तथा साथ ही महिला अधिकार का चर्चा हो रहा है। उसी समय इस तरह की विज्ञापन दिखाया जा रहा है ।हद तो तब हो जाती इस तरह की ज्यादातर विज्ञापन वही लोग करते है जो महिला शशक्तिकरण की बात करते।इस तरह की विज्ञापन को समाचार चैनल में भी दिखाया जाता है जबकि इनको इस पर सवाल उठाना चाहिए ।सरकार भी अपना पल्ला सेल्फ रेगुलेशन के नाम पर झाड़ लेती है ।
Source

No comments