कोरोना वायरस से बचने के लिए नाई की दुकानों और सैलूनज़ के लिए एडवाइजऱी जारी, यहां पढ़ें - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Monday, May 25, 2020

कोरोना वायरस से बचने के लिए नाई की दुकानों और सैलूनज़ के लिए एडवाइजऱी जारी, यहां पढ़ें


चंडीगढ़ । पंजाब के स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड-19 महामारी के मद्देनजऱ नाई की दुकानों / हेयर-कट सैलूनज़ की सफ़ाई और स्वच्छता बनाए रखने सम्बन्धी विस्तृत एडवाइजऱी जारी की गई है।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि नाई की दुकान / हेयर-कट सैलून के मालिकों को यह यकीनी बनाना होगा कि कोई भी स्टाफ मैंबर जिसमें कोविड-19 (बुख़ार, सूखी खाँसी, साँस लेने में तकलीफ़ आदि) के लक्षण होने पर काम पर न बुलाया जाए और उक्त व्यक्ति तुरंत डॉक्टरी सलाह लेकर घर के अंदर रहे। इसी तरह ऐसे लक्षण पाए जाने वाले किसी भी ग्राहक का काम न किया जाए। जिस मामले में किसी को (जैसे माता-पिता / गारडियनज़) साथ लाना ज़रूरी न हो तो बेहतर होगा कि दुकान पर आने वाले ग्राहक अपने साथ किसी अन्य व्यक्ति को साथ न लेकर आएं। प्रवक्ता ने आगे कहा कि नाई की दुकानों / हेयर-कट सैलून के मालिक यह सुनिश्चित करेंगे कि उनकी दुकान / सैलून में अनावश्यक भीड़ न हो।
इसके अलावा सेवाएं लेते समय ग्राहकों द्वारा संभव हो तो मास्क का प्रयोग किया जाए। नाई की दुकान / हेयर-कट सैलून के मालिक और वहाँ काम करने वाले स्टाफ द्वारा निश्चित तौर पर मास्क का प्रयोग किया जाए।
एडवाइजऱी में कहा गया है कि ग्राहकों और स्टाफ के आपसी व्यवहार के दौरान कोविड-19 की रोकथाम से सम्बन्धित सभी दिशा-निर्देशों जैसे कि बार-बार हाथ धोना (साबुन और पानी या अल्कोहल आधारित हैंड सैनीटाईजऱ के साथ), एक मीटर की शारीरिक दूरी बनाए रखना, श्वसन स्वच्छता की पालना, बीमारी के लक्षण पर नजऱ रखना, सार्वजनिक स्थानों पर न थूकना आदि का निश्चित रूप से पालन किया जाए।
इसके अलावा जहाँ तक हो सके दुकान मालिकों द्वारा ग्राहकों को डिजिटल भुगतान के तरीकों का प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जाए। अगर नकदी द्वारा लेन-देन किया जाता है तो दुकानदार, स्टाफ और ग्राहक नकदी के लेन-देन से पहले और बाद में अपने हाथों को तुरंत साफ़ करें।
दुकानों की उपयुक्त साफ़-सफ़ाई सम्बन्धी सर्विस रूम, इन्तज़ार वाले स्थानों, काम करने वाले स्थानों आदि समेत अंदर के स्थनों को हर 2-3 घंटे के अंदर उपयुक्त तरह से साफ़ करने की सलाह दी गई है। फ़र्श को 1 प्रतिशत सोडियम हाईपोक्लोराईट या मार्केट में उपलब्ध इसके बराबर के किसी अन्य डिसइनफैक्टैंट के साथ साफ़ किया जाए। फर्नीचर और अक्सर छूईं जाने वाली सतहों और अन्य चीज़ों को नियमित रूप से साफ़ / डिसइनफैक्ट किया जाए।
उपकरणों (कैंची, उस्तरा, कंघी, स्टाईलिंग टूलज़) को हर प्रयोग के बाद 1 प्रतिशत सोडियम हाईपोक्लोराईट के साथ साफ़ किया जाए। काम के दौरान इस्तेमाल किए जाने वाले कपड़े, तौलिए और सम्बन्धित चीज़ों को नियमित रूप से साफ़ किया और धोया जाए।

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें