बंगाल के स्कूल में 'काली त्वचा बदसूरत है' पढ़ाए जाने पर 2 अधिकारी निलंबित- #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Friday, June 12, 2020

बंगाल के स्कूल में 'काली त्वचा बदसूरत है' पढ़ाए जाने पर 2 अधिकारी निलंबित- #भारत_मीडिया #Bharat_Media

2 officers suspended for teaching black skin is ugly in Bengal school - Kolkata News in Hindi
कोलकाता। पश्चिम बंगाल सरकार ने बर्दवान जिले में स्कूल के दो अधिकारियों को एक ऐसी किताब से पढ़ाने के आरोप में निलंबित कर दिया है, जिसमें काले रंग के लोगों को 'बदसूरत' बताया गया है। यह मामला नस्लीय और रंग भेदभाव की पृष्ठभूमि से जुड़ा है। यह घटना बर्दवान म्युनिसिपल गर्ल्स हाईस्कूल में घटी, जहां एक रिफरेंस बुक में काले रंग की त्वचा वाले व्यक्ति की तस्वीर के साथ 'बदसूरत' शब्द का इस्तेमाल किया गया था।

पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने मामले का संज्ञान लिया और मामले में शामिल दो स्कूल अधिकारियों- श्रावणी मंडल और बरनाली दास को निलंबित कर दिया है।

चटर्जी ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया, "निलंबन अनुशासनात्मक कार्रवाई का एक हिस्सा है। हमने दोनों से स्पष्टीकरण मांगा है कि वे नगर निगम के स्कूल में उस रेफरेंस बुक का उपयोग क्यों कर रही हैं और छात्रों के बीच नस्लीय रूढ़िवादिता को प्रोत्साहित कर रही हैं।"

मंत्री ने कहा कि जिस पुस्तक में काले रंग के व्यक्ति को 'बदसूरत' बताया गया है, वह राज्य सरकार द्वारा प्रकाशित पाठ्यपुस्तक नहीं थी।

उन्होंने आगे कहा कि यह एक दुर्भावनापूर्ण प्रयास है। मंत्री ने कहा, "उन्होंने यह पुस्तक बाहर से प्राप्त की और इसे संदर्भ के रूप में उपयोग किया। हम इस मामले को बहुत गंभीरता से देख रहे हैं।"

इस बीच, बर्दवान म्युनिसिपल गर्ल्स हाईस्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं के अभिभावकों के एक वर्ग ने भी इस मुद्दे पर विरोध जताया है।

--आईएएनएस



 #भारत_मीडिया पेज को लाइक करना न भूलें, पूरी खबर लिंक पर क्लिक कर अवश्य पढ़ें 🙏  : 

.

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें