राजस्थान के चिकित्सा विभाग ने हासिल किया कोरोना की 25 हजार जांच प्रतिदिन करने का लक्ष्य - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Monday, June 8, 2020

राजस्थान के चिकित्सा विभाग ने हासिल किया कोरोना की 25 हजार जांच प्रतिदिन करने का लक्ष्य

Aim to conduct 25 thousand tests of corona daily - Jaipur News in Hindi
जयपुर । राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने बताया कि चिकित्सा विभाग ने प्रदेश में प्रतिदिन 25 हजार कोरोना जांच करने का लक्ष्य हासिल कर लिया है। अब प्रत्येक जिले में जांच सुविधा विकसित करने के लक्ष्य को भी जल्द पूरा कर लिया जाएगा।

डाॅ. शर्मा ने बताया कि जब प्रदेश में पहला पाॅजिटिव केस आया था तब जांच की सुविधा नहीं थी। सैंपल को भी पुणे की लैब में भेजना पड़ा था लेकिन मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में सबसे पहले 10 हजार जांचें प्रतिदिन करने का लक्ष्य रखा गया। कुछ ही दिनों में इसे हासिल कर दोबारा 25 हजार जांचें प्रतिदिन करने के निर्देश दिए गए। आज विभाग प्रतिदिन 25 हजार 150 जांच प्रतिदिन कर पाने में सक्षम हो गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि भले ही प्रदेश में पाॅजिटिव मरीजों की संख्या 10 हजार 696 तक जा पहुंची है लेकिन पाॅजिटिव से नेगेटिव होने की संख्या भी उतनी ही तेजी से बढ़ी है। इनमें से 7 हजार 814 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। प्रदेश में रिकवरी का रेशो 73 फीसद से ज्यादा है, जोकि अन्य राज्यों से बेहतर है। उन्होंने बताया कि राज्य में प्रवासी व अन्य सभी एक्टिव केेसेज को मिलाकर संख्या केवल 2 हजार 641 है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कोरोना पीड़ित भी 21 दिनों में दोगुने तक हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में अब तक जो मृत्यु के मामले भी सामने आए हैं उनमें से ज्यादा लोग अन्य बीमारियों से ग्रसित थे।

डाॅ. शर्मा ने बताया कि प्रदेश में कोरोना को नियंत्रित करने में चिकित्सक, नर्सिंगकर्मी, पैरा मेडिकल स्टाफ, सफाईकर्मी, प्रशासक, पुलिस और लोगों को जागरूक करने के लिए मीडिया की अहम भूमिका रही है। यही वजह है कि राजस्थान कम मृत्युदर, रिकवरी, एक्टिव केसेज के नियंत्रण सहित हर मामले में अग्रणी राज्यों में शुमार रहा है।

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें