कोरोना वायरस - राजस्थान में 28 दिनों में हो रहे हैं दोगुने मरीज - #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

मुख्य समाचार

कोरोना वायरस - राजस्थान में 28 दिनों में हो रहे हैं दोगुने मरीज - #भारत_मीडिया #Bharat_Media

Corona virus - more than twice as many patients in Rajasthan in 28 days - Jaipur News in Hindi
जयपुर। प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने बताया कि प्रदेश के 19 जिलों के 26 केंद्रों पर कोरोना की जांच की जा रही है। 20वें जिले के लिए भी हाल में अनुमति मिल गई है। उन्होंने कहा कि शेष बचे जिलों में भी कोरोना जांच की सुविधाएं जल्द विकसित कर ली जाएंगी।

डाॅ. शर्मा ने आकाशवाणी को दिए गए साक्षात्कार में बताया कि प्रदेश में कोरोना की संख्या भले ही बढ़ रही हो लेकिन पाॅजिटिव से नेगेटिव में बदलने वालों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हो रहा है। देश भर में राजस्थान रिकवरी के मामले में सबसे आगे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश ने 38 हजार से ज्यादा जांचें प्रतिदिन करने की क्षमता विकसित कर ली है।

चिकित्सा मंत्री ने बताया कि अनलाॅक-1 के बाद प्रदेश में पाॅजिटिव्स मरीजों की तादात में बढ़ोतरी हुई है लेकिन सबसे बड़ी सुकून की बात यह है कि प्रदेश में 79 फीसद से ज्यादा मरीज पाॅजिटिव से नेगेटिव में भी बदल रहे हैं, जो कि देश में सर्वाधिक है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कोरोना से होने वाली मृत्युदर भी 2.3 प्रतिशत है, जोकि राष्ट्रीय औसत से बहुत कम है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में प्रदेश में 3072 कोरोना पाॅजिटिव केसेज हैं, इसमें से 2031 अस्पतालों में भर्ती हैं, शेष होम आइसोलेशन में हैं।

डाॅ. शर्मा ने कहा कि राज्य में कोविड से निपटने के लिए बेहतर इंतजामात किए गए हैं। प्रदेश में 405 कोविड केयर सेंटर में 42 हजार से ज्यादा बैड्स हैं। उन्होंने बताया कि 8 हजार से ज्यादा ऑक्सीजन सपोर्ट बैड, 1672 आईसीयू बैड, 881 वेंटीलेटर्स हैं। पर्याप्त मात्रा में पीपीई किट, एन-95 मास्क, थ्री लेयर मास्क हैं। उन्होंने बताया कि भारत सरकार द्वारा 1200 वेंटिलेटर्स उपलब्ध करवाए जाएंगे, जिनमें से 300 वेंटिलेटर्स पोर्टेबल टाइप के हैं, जो कि खासे मददगार साबित होंगे।

प्रतिदिन 38250 जांचें करने की क्षमता विकसित

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि राज्य में अब तक 7.50 लाख से ज्यादा टेस्ट करवाए जा चुके हैं। प्रदेश में 38250 टेस्ट प्रतिदिन करने की क्षमता विकसित कर ली है और प्रतिदिन 15-16 हजार जांचें प्रतिदिन की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि अमरीका से आने वाली अत्याधुनिक कोबास-8800 मशीन के बाद करीब 9 हजार जांचें प्रतिदिन और की जा सकेंगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में जांच सुविधा देश भर में सबसे बेहतर है। राजस्थान ने पड़ौसी राज्यों को भी 5000 टेस्ट प्रतिदिन करने की सुविधाएं उपलब्ध करवाई है।

राजस्थान में 28 दिनों में हो रहे हैं दोगुने मरीज
डाॅ. शर्मा ने बताया कि देश भर में कोरोना पीड़ित के दोगुने होने की राष्ट्रीय औसत 19 दिन है, जबकि राजस्थान में यह औसत 28 दिन है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के जयपुर, धौलपुर, भरतपुर, जोधपुर, पाली सहित कुछ जिले हैं, जहां 100 से ज्यादा एक्टिव मरीज हैं। भरतपुर और धौलपुर जिलों में तो बाहरी राज्यों के सुपर स्प्रेडर्स के जरिए संक्रमण का फैलाव हुआ लेकिन हालात पूरी तरह काबू में है।



 #भारत_मीडिया पेज को लाइक करना न भूलें, पूरी खबर लिंक पर क्लिक कर अवश्य पढ़ें 🙏  : 

.

No comments

Note: Only a member of this blog may post a comment.