कांग्रेस नेताओं से अफसरों ने घुटने के बल बैठकर की बात, हुआ तबादला, कैसे,यहां पढ़ें- #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Sunday, June 14, 2020

कांग्रेस नेताओं से अफसरों ने घुटने के बल बैठकर की बात, हुआ तबादला, कैसे,यहां पढ़ें- #भारत_मीडिया #Bharat_Media

Transfer of SDM and DSP sitting on knees in front of Congress leaders
भोपाल | मध्यप्रदेश के इंदौर में धरना दे रहे कांग्रेस नेताओं को मनाने गए दो अधिकारियों को घुटने के बल बैठकर बात करना महंगा पड़ गया है। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व (एसडीएम) राकेश शर्मा और नगर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) डी.के. तिवारी का तबादला कर दिया गया है। मामला शनिवार का है, इंदौर में राजवाड़ा पर देवी अहिल्या बाई की प्रतिमा के समक्ष पूर्व मंत्री व विधायक जीतू पटवारी, विधायक संजय शुक्ला व विशाल पटेल धरने पर बैठे थे। उनकी मांग थी कि पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए, क्योंकि गुप्ता ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के जन्मदिन के मौके पर शुक्रवार को कमला नेहरू नगर में राशन वितरित किया था। इसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया था।

धरने पर बैठे कांग्रेस नेताओं से संवाद करने एसडीएम राकेश शर्मा और सीएसपी डी. के. तिवारी मौके पर पहुंचे। इन अधिकारियों ने जमीन पर बैठे कांग्रेस नेताओं से संवाद खड़े रहकर न कर जमीन पर घुटनों के बल बैठकर किया। साथ ही उनसे धरना खत्म करने की अपील की।

दोनों अधिकारियों का कांग्रेस नेताओं से घुटने के बल बैठकर बात करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। देर रात तक प्रशासन ने दोनों ही अधिकारियों के तबादले के आदेश जारी कर दिए।

सामान्य प्रशासन विभाग के अवर सचिव ब्रजेश सक्सेना ने एसडीएम शर्मा का तबादला बतौर इंदौर के डिप्टी कलेक्टर सामान्य प्रशासन विभाग (पूल) में करने का आदेश जारी किया। इसी तरह सीएसपी तिवारी के तबादले का आदेश गृह विभाग के उपसचिव आशीष भार्गव ने जारी किया। तिवारी को भोपाल पुलिस मुख्यालय में पदस्थ किया गया है।

--आईएएनएस



 #भारत_मीडिया पेज को लाइक करना न भूलें, पूरी खबर लिंक पर क्लिक कर अवश्य पढ़ें 🙏  : 

.

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें