योगी सरकार का बड़ा फैसला, यूपी में बिजली विभाग नहीं लगाएगा चीनी मीटर और उपकरण- #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Monday, June 22, 2020

योगी सरकार का बड़ा फैसला, यूपी में बिजली विभाग नहीं लगाएगा चीनी मीटर और उपकरण- #भारत_मीडिया #Bharat_Media

cm yogi adityanath warns medical staff not to gather crowd at holding areas in hospital
भारत और चीन के बीच सीमा पर हुए विवाद के बाद उत्तर प्रदेश ऊर्जा विभाग ने बड़ा फैसला लिया है। बिजली महकमा ट्रांसमिशन व उत्पादन के साथ ही किसी भी काम के लिए चीन निर्मित किसी उपकरण का उपयोग नहीं करेगा। इतना ही नहीं एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (ईईएसएल) द्वारा उत्तर प्रदेश के लिए मुहैया कराए गए और इंडोनेशिया से खरीदे गए स्मार्ट मीटर को भी उपभोक्ताओं के घरों पर लगाने पर रोक लगा दिया गया है। इस मीटर की सप्लाई करने वाली इंडोनेशिया की कंपनी मूलत: चीन की बताई जा रही है।

उत्तर प्रदेश राज्य उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने ईईएसएल द्वारा राज्य में भेजे गए आठ हजार स्मार्ट मीटर के चीन निर्मित होने का दावा करते हुए इसे उपभोक्ताओं के घर नहीं लगाने की मांग की थी। परिषद ने ऊर्जा मंत्री को दिए गए अपने प्रत्यावेदन में बताया था कि मूलत: चीन की कंपनी हेक्सिंग इलेक्ट्रिकल कंपनी लिमिटेड ने ही इंडोनेशिया में मुखौटा कंपनी खोलकर पीटी हेक्सिंग के नाम से मीटर का ऑर्डर लिया है। परिषद की शिकायत पर ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने इसकी जांच कराने के निर्देश दिए थे।

इस बाबत यूपीपीसीएल के निदेशक कामर्शियल एके श्रीवास्तव का कहना है कि जो 8000 मीटर आए हैं अभी उसमें से एक भी कहीं लगाए नहीं गए हैं। ईईएसएल इस बात की जांच कर रहा है कि मीटर कंपनी चीन की है या नहीं। जांच को देखते हुए फिलहाल इस मीटर को लगाने पर रोक लगा दी गई है। गौरतलब है कि कुछ वर्ष पूर्व चीन में बने मीटर लखनऊ तथा अन्य शहरों में लगाए गए थे। मीटर की गुणवत्ता खराब होने की शिकायत के बाद एक साल पहले ये मीटर लखनऊ के उपभोक्ताओं के घरों से उतरवाए गए थे।



 #भारत_मीडिया पेज को लाइक करना न भूलें, पूरी खबर लिंक पर क्लिक कर अवश्य पढ़ें 🙏  : 

.

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें