चुनावी साल में जद (यू) ने शुरू की खरीद-फरोख्त की सियासत: वंचित समाज पार्टी - #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Wednesday, June 24, 2020

चुनावी साल में जद (यू) ने शुरू की खरीद-फरोख्त की सियासत: वंचित समाज पार्टी - #भारत_मीडिया #Bharat_Media

JD (U) started politics in the election year: Deprived Samaj Party - Patna News in Hindi
पटना। वंचित समाज पार्टी के उपाध्यक्ष ललित सिंह ने बुधवार को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के पांच विधान परिषद के सदस्यों के त्यागपत्र देकर जदयू में शामिल होने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि चुनावी साल में मुख्यमंत्री ने सत्ता में बने रहने के लिए फि र से खरीद-फरोख्त की सियासत प्रारंभ कर दी है। पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में सिंह ने ऐसे कायरे को अनैतिक और अलोकतांत्रिक बताते हुए कहा कि नीतीश की राजनीति प्रारंभ से ही खरीद-फरोख्त पर आधारित रही है।

उन्होंने कहा, "सत्ता के लिए नीतीश कभी राजद के साथ हों जाएंगें तो कभी भाजपा के साथ हो जाएंगें। कभी जीतन राम मांझी को मुख्यमंत्री बना देंगे तो काम निकल जाने के बाद उन्हें बेइज्जत कर कुर्सी से उतार देंगें।"

उन्होंने आगे कहा, "बिहार में राजग की नेतृत्व द्वारा लगातार विपक्षी विधायकों, सांसदों को तोड़ने की परंपरा रही है। इसका क्षणिक लाभ तो मिल सकता है लेकिन जनता सब जानती है।"

सिंह ने नीतीश कुमार को चुनौती देते हुए कहा कि कोई भी उपाय कर लें लेकिन इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में नीतीश की पार्टी की हार तय है। उन्होंने कहा कि राजग का इस बार मुकाबला राजद से नहीं बल्कि तीसरे मोर्चा से होने वाला है।

उन्होंने नीतीश पर भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि नीतीश कुमार का स्थान अब लालू प्रसाद के बगल में है। उन्होंने सभी दलों से स्वस्थ लोकतंत्र के लिए कर्मठ और प्रतिबद्घ कार्यकर्ता को ही तरजीह दिए जाने की अपील की।

--आईएएनएस



 #भारत_मीडिया पेज को लाइक करना न भूलें, पूरी खबर लिंक पर क्लिक कर अवश्य पढ़ें 🙏  : 

.

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें