झूठ बोलना बंद करें, वरना मप्र के मंत्री के खिलाफ दर्ज करेंगे शिकायत : कांग्रेस- #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Monday, June 15, 2020

झूठ बोलना बंद करें, वरना मप्र के मंत्री के खिलाफ दर्ज करेंगे शिकायत : कांग्रेस- #भारत_मीडिया #Bharat_Media

Stop lying, else you will file complaint against MP minister: Congress - Bhopal News in Hindi
भोपाल । मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ पर छिंदवाड़ा में कथित तौर पर अनुसूचित जाति का अपमान करने वाला बयान पर कांग्रेस ने पलटवार किया है। कांग्रेस ने इस मामले पर प्रकरण दर्ज किए जाने की मांग की है। साथ ही कहा है कि पटेल झूठ परोसना बंद करें नहीं तो कांग्रेस उचित फोरम पर उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराएगी। कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा है कि 19 दिन बाद जागे कृषि मंत्री कमल पटेल पहले अपनी जानकारी दुरुस्त कर लें। अपने ज्ञान में वृद्घि कर लें। एक बार मंत्री पटेल 27 मई के कमल नाथ जी के वीडियो को भी ध्यान से सुन लें और फि र झूठ परोसें।

सलूजा ने कहा, "मुद्दाविहीन भाजपा झूठे मुद्दों पर प्रदेश की जनता को गुमराह करना बंद करे। प्रदेश की जनता को झूठ परोसना बंद करेअन्यथा कांग्रेस झूठ व भ्रम फैलाकर कमलनाथ की छवि बिगाड़ने को लेकर मंत्री कमल पटेल के खिलाफ आवश्यक फोरम पर शिकायत दर्ज करायेगी।"

पटेल पर हमला करते हुए सलूजा ने कहा, कमल पटेल इस झूठी शिकायत के पहले उनके पुत्र द्वारा हरदा के दलित समाज के युवक सुखराम बामने को फोन पर दी गईं गालियां सुन लें, जिसमें दलित समाज को टारगेट किया गया है। इसके बाद वे इस वर्ग के हितैषी होने का दावा करें।

मीडिया समन्वयक सलूजा का आरोप कि, किस प्रकार एक दलित युवक को पटेल के पुत्र द्वारा जातिसूचक शब्दों का उपयोग कर गंदी - गंदी गालियां दी गईं, जिसको लेकर प्रदेश भर में अनुसूचित जाति वर्ग ने आंदोलन भी किया और मंत्री पुत्र पर प्रकरण भी दर्ज हुआ।कांग्रेस के पास फोन की रिकडिर्ंग भी उपलब्ध है। उसमें इतनी गंदी-गंदी गलियों का उपयोग किया गया है कि हम उसे पोस्ट भी नहीं कर सकते हैं।

ज्ञात हो कि कृषि मंत्री पटेल ने रविवार को पुलिस महानिदेशक और आदिमजाति कल्याण के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर आरोप लगाया था कि कमल नाथ ने छिंदवाड़ा में अपने एक बयान से अनुसूचित जाति का अपमान किया था। इसलिए उनके खिलाफ प्रकरण दर्ज किया जाना चाहिए।

--आईएएनएस



 #भारत_मीडिया पेज को लाइक करना न भूलें, पूरी खबर लिंक पर क्लिक कर अवश्य पढ़ें 🙏  : 

.

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें