UP में चमगादड़ों की मौत कोरोना से नहीं, जांच रिपोर्ट में सामने आया ये सच- #भारत_मीडिया - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Thursday, June 4, 2020

UP में चमगादड़ों की मौत कोरोना से नहीं, जांच रिपोर्ट में सामने आया ये सच- #भारत_मीडिया

कोरोना नहीं, अत्यधिक गर्मी के कारण ब्रेन हेमरेज से हुई थी चमगादड़ों की मौत
बरेली : पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में कुछ दिन पहले रहस्यमय परिस्थितियों में मरे चमगादड़ों की मौत कोरोना के कारण नहीं, दरअसल अत्यधिक गर्मी के चलते ब्रेन हैमरेज के कारण हुई थी. चमगादड़ों के मरने के कारणों की जांच के लिये उनके शव बरेली के भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आईवीआरआई) को भेजे गये थे. पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि सभी चमगादड़ों की मौत अत्यधिक गर्मी होने के कारण ब्रेन हैमरेज से हुई थी.

आईवीआरआई के निदेशक डॉक्टर आरके सिंह ने बृहस्पतिवार को बताया कि चमगादड़ों की मौत का कोरोना से कोई लेना-देना नहीं था और उनकी मौत अत्यधिक गर्मी के कारण ब्रेन हेमरेज के चलते हुई थी. चमगादड़ों की रेबीज और कोरोना की भी जांच आईवीआरआई में करायी गयी, दोनों ही रिपोर्ट निगेटिव आयी हैं. उन्होंने बताया कि पिछले दिनों तापमान 45 डिग्री पार कर गया था और गर्मी की प्रचंडता तथा पानी की कमी पशु और पक्षियों के लिए जानलेवा साबित हो रही है. तापमान अधिक होने से पशुओं और पक्षियों में डिहाइड्रेशन की समस्या जाती है. समय से पानी ना मिले तो यह जानलेवा भी हो सकता है.

सिंह ने बताया कि गोरखपुर के खजनी रेंज के बेलघाट स्थित एक बाग में पिछले महीने 300 से अधिक चमगादड़ों के मरने की घटना प्रकाश में आयी थी. इसके अलावा पूर्वी उत्तर प्रदेश के बलिया में भी चमगादड़ों की मौत हो गयी थी. चालीस डिग्री सेल्सियस के ऊपर का तापमान बर्दाश्त करना चमगादड़ों के लिए आसान नहीं होता. मालूम हो कि पिछले दिनों गोरखपुर और बलिया में बड़ी संख्या में चमगादड़ों की मौत हो गयी थी. लोग इसे कोरोना से जोड़कर देख रहे थे. इसकी वजह से इलाके में भय व्याप्त हो गया था.

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें