विकास दुबे को लगी 4 गोली, जानें मुठभेड़ की पूरी कहानी #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Friday, July 10, 2020

विकास दुबे को लगी 4 गोली, जानें मुठभेड़ की पूरी कहानी #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

Vikas Dubey Encounter : विकास दुबे को लगी 4 गोली, जानें मुठभेड़ की पूरी कहानी
कानपुर पुलिस एनकाउंटर का मुख्य आरोपी विकास दुबे पुलिस के साथ एनकाउंटर में मारा गया. पुलिस ने उसे कानपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. यूपी एसटीएफ विकास दुबे को उज्जैन से कानपुर सड़क मार्ग से ले जा रही थी, लेकिन भौंती बायपास के निकट गाड़ी पलटने के बाद यह एनकाउंटर हुआ.

डॉ. आरबी कमल (प्रिंसिपल, LLR अस्पताल) ने कहा कि विकास दुबे को यहां मृत लाया गया था, उसको 4 गोली लगी थी. 3 गोली सीने में जबकि एक गोली हाथ में लगी थी.टीवी रिपोर्ट्स के अनुसार आज सुबह 6 बजे गाड़ी पलटने से विकास दुबे भागने लगा. इस दौरान विकास कांस्टेबल का हथियार लेकर भागने लगा. भागने के दौरान ही पुलिस के साथ जमकर मुठभेड़ हुई. पुलिस मुठभेड़ में विकास दुबे बुरी तरह घायल हो गया था, जिसेके बाद उसे अस्पताल लाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.

पूरी कहानी- कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार ने बताया, ‘तेज बारिश हो रही थी. पुलिस ने गाड़ी तेज भगाने की कोशिश की जिससे वह डिवाइडर से टकराकर पलट गयी और उसमें बैठे पुलिसकर्मी घायल हो गये. उसी मौके का फायदा उठाकर दुबे ने पुलिस के एक जवान की पिस्तौल छीनकर भागने की कोशिश की और कुछ दूर भाग भी गया.' कुमार ने कहा, ‘तभी पीछे से एस्कार्ट कर रहे एसटीएफ के जवानों ने उसे गिरफ्तार करने की कोशिश की और उसी दौरान उसने एसटीएफ पर गोली चला दी जिसके जवाब में जवानों ने भी गोली चलाई और वह घायल होकर गिर पड़ा. हमारे जवान उसे अस्पताल लेकर गये जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.'

पुलिस ने की पुष्टि- 8 पुलिस वालों के हत्यारे विकास दुबे के एनकाउंटर में मारे जाने की पुष्टि डॉक्टरों ने कर दी है. पुलिस के अधिकरी ने बताया कि उसके मौत की खबर को डॉक्टर ने कन्फर्म कर दिया है. वहीं एसटीएफ के कांस्टेबल भी इस एनकाउंटर में घायल हुए हैं.

5 मीटर के दूरी से हुआ मुठभेड़- टीवी रिपोर्ट्स ने एसटीएफ के हवाले से बताया कि विकास दुबे गाड़ी पलटने के बाद एसटीएफ का हथियार छीन कर भाग रहा था, जिसके बाद उसे रोकने की कोशिश किया गया, लेकिन वो नहीं माना, जिसके बाद एनकाउंटर शुरू हुआ. पुलिस ने 5 मीटर की दूरी से मार गया है.
गांव वालों ने सुनी गोलियों की तड़तड़ाहट- स्थानीय गांव वालों ने बताया कि सुबह छह बजे के आसपास खेत से गोलियां की तड़तड़ाहट की आवाज सुनाई दी है. माना जा रहा है कि विकास दुबे के तरफ से भी काफी गोलियां चलाई गई है, हालांकि अधिकारियों ने इसपर कोई बयान नहीं दिया है.

अब तक 6 ढेर- विकास दुबे सहित उसके गैंग के 6 गुर्गे अब तक पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया है. कल हमीरपुर से विकास दुबे के खास अमर को भी पुलिस ने मार गिराया था. इससे पहले पुलिस की शहादत के बाद पुलिस ने विकास के साथी और मामा को मार गिराया था.
उज्जैन से किया था गिरफ्तार- कानपुर एनकांउटर का मुख्य आरोपी कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey) को गुरुवार की सुबह उज्जैन में गिरफ्तार किया गया. पांच लाख का इनामी विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए गया था. वहां के गार्ड ने उसे पहचाना. उसकी पहचान होते ही वहां की पुलिस एक्शन में आयी और उसे वहीं धर दबोचा.


No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें