पंजाब की 9 सहकारी चीनी मिलों को 100 करोड़ रुपए जारी- #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Friday, July 3, 2020

पंजाब की 9 सहकारी चीनी मिलों को 100 करोड़ रुपए जारी- #भारत_मीडिया #Bharat_Media

Rs 100 crore released to 9 cooperative sugar mills of Punjab - Punjab-Chandigarh News in Hindi
चंडीगढ़ । पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने गुरूवार को सहकारिता मंत्री को निर्देश दिए कि वह राज्य की 9 सहकारी चीनी मिलों के द्वारा किसानों की साल 2019 -20 के लिए अदायगियां तुरंत करना यकीनी बनाएं। चीनी मिलों को शूगरफैड द्वारा 100 करोड़ जारी किये गए।
सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशों पर शूगरफैड द्वारा साल 2019 -20 के पिड़ाई सीजन के लिए किसानों को अदायगियां देने के लिए 100 करोड़ रुपए जारी किये गए हैं।
मुख्यमंत्री ने सहकारिता मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा को कहा कि वह सहकारी मिलों को निर्देश जारी करें कि किसानों के खातों में बिना किसी देरी के अदायगी करें।
100 करोड़ रुपए जारी करने से सहकारी चीनी मिलें साल 2019 -20 के पिड़ाई सीजन के बकाया पड़ी 486.23 करोड़ की राशि में से 349.05 करोड़ रुपए की अदायगी कर सकेगी। साल 2018 -19 के सीजन के लिए नवांशहर, बुढ्ढेवाल, मोरिंडा, फाजिल्का, गुरदासपुर, अजनाला, नकोदर, भोगपुर और बटाला की चीनी मिलों की तरफ से पहले ही भुगतान कर दिए गए हैं।
सहकारिता मंत्री स. रंधावा ने किसानों को विश्वास दिलाया कि साल 2019 -20 की बाकी बचती अदायगी का भी जल्द भुगतान कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि सहकारी चीनी मिलों के चीनी निर्यात सब्सिडी और बफर स्टाक के दावे के तौर पर भारत सरकार की तरफ से की जाने वाली 60 करोड़ रुपए की राशि का तुरंत भुगतान करने के लिए केंद्र के पास पहुँच की जायेगी जिससे गन्ना काश्तकारों के बनते बकाए की अदायगी जल्द से जल्द की जायेगी।
स. रंधावा ने किसानों के कल्याण के लिए राज्य सरकार की वचनबद्धता दोहराते हुये कहा कि कोरोना महामारी और लॉकडाऊन के कारण सरकारी राजस्व में भारी गिरावट के बावजूद गन्ना किसानों के बकाए का जल्द भुगतान करने के लिए हर संभव कोशिशें की जा रही हैं।

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें