जल्द ही गिरफ्त में आ जायेगा विकास दुबे, नजीर बनेगी कार्रवाई : एडीजी प्रशांत कुमार- #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Wednesday, July 8, 2020

जल्द ही गिरफ्त में आ जायेगा विकास दुबे, नजीर बनेगी कार्रवाई : एडीजी प्रशांत कुमार- #भारत_मीडिया #Bharat_Media

प्रशांत कुमार, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर, उत्तर प्रदेश पुलिस
लखनऊ : कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे घटना के पांच दिनों बाद भी यूपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. उसका कोई अता-पता नहीं है. बुधवार को एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने विकास दुबे को लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें उन्होंने अब तक हुई कार्रवाई के संबंध में जानकारी दी. एडीजी ने कहा कि विकास दुबे जल्द ही गिरफ्त में आ जायेगा. इस मामले में ऐसी कार्रवाई होगी, जो पूरे देश के लिए नजीर बनेगी. पुलिसवालों की शहादत बेकार नहीं जाने देंगे. बदमाश पछताएंगे.
उन्होंने कहा कि चौबेपुर के सभी पुलिसवालों को हटा दिया गया है. मामले में शामिल हर एक आरोपी के खिलाफ कार्रवाई हो रही है. एडीजी ने कहा कि गौतमबुद्ध नगर के एक्सप्रेस-वे थाने में हुए एक एनकाउंटर और बुलंदशहर के सियाना में भी छापेमारी के बाद इनामी बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है. बीती रात 50 हजार रुपये के इनामी बदमाश श्यामू वाजपेयी और उसके दो साथियों को गिरफ्तार किया गया है.

बुधवार की सुबह कानपुर एनकाउंटर में नामित और वांछित अमर दुबे उर्फ संदीप दुबे को मार गिराया गया है. इस बदमाश के पास से एक सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल बरामद किया गया है. उसे हमीरपुर के थाना मौदाहा के अंतर्गत मार गिराया गया है. उसे स्थानीय पुलिस और एसटीएफ ने मारा है. अमर दुबे को विकास का करीबी बताया जाता है. एडीजी ने कहा कि फरीदाबाद (हरियाणा) में मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने तीन लोगों को पकड़ा है.

बिकरू गांव के कार्तिकेय उर्फ प्रभात, काकूपुर गांव के अंकुर उर्फ श्रवण कुमार, न्यू इंदिरा नगर के बाल प्रताप को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से घटना के दिन पुलिस से लूटी गयी 9 एमएम की पिस्टल बरामद की गयी है. इन सभी को रिमांड लेकर यूपी लाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इस मामले में अब तक चार हथियार बरामद हुए हैं, जिनमें से एक उसी दिन बरामद हो गये थे, जबकि दो आज बरामद किये गये हैं. घटना में उपयोग हुए दो हथियारों की तलाश की जा रही है.

एडीजी प्रशांत कुमार ने यूपी में घटते क्राइम ग्राफ के आंकड़े गिनाये. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने कहा कि इस साल डकैती के केस में करीब 38 फीसदी की कमी आयी है. लूट में 44.17 फीसदी की कमी आयी है. हत्या के मामलों में करीब आठ फीसदी की कमी आयी है. फिरौती-अपहरण में 41 फीसदी की कमी आयी है. दहेज हत्या में 6.34 फीसदी की कमी आयी है.

गौरतलब है कि दो जुलाई की रात को बिकारू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से ही गैंगस्टर विकास दुबे फरार है. उसकी तलाश में छापेमारी की जा रही है. फरीदाबाद एक होटल में विकास दुबे के छिपे होने की खबर मिली थी, जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी की. लेकिन, यहां विकास दुबे नहीं मिला. हालांकि, उसका गुर्गा प्रभात पकड़ा गया है.

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें