राजस्थान में सरकार गिराने के लिए सचिन कर रहे थे सौदेबाजी, मेरे पास सबूत है : गहलोत #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Wednesday, July 15, 2020

राजस्थान में सरकार गिराने के लिए सचिन कर रहे थे सौदेबाजी, मेरे पास सबूत है : गहलोत #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

Sachin Pilot was bargaining to bring down the government, I have proof: Chief Minister Ashok Gehlot - Jaipur News in Hindi
जयपुर । राजस्थान में कांग्रेस और सचिन पायलट के बीच चल रही खींचतान के बीच सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने खुलकर पायलट पर हमला बोला है। बुधवार को मुख्यमंत्री गहलोत ने मीडिया से मुखातिब होते हुए सचिन पायलट पर हमला बोला और भाजपा पर विधायकों के खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया। सीएम ने कहा कि हमारे यहां उप-मुख्यमंत्री खुद ही डील कर रहे हैं। 

सीएम ने कहा कि जयपुर में विधायकों की खरीद-फरोख्त की जा रही थी, हमारे पास इसके सबूत हैं। हमें विधायकों को एक होटल में 10 दिनों के लिए रखना पड़ा, अगर हमने ऐसा नहीं किया होता तो मानेसर में जो हो रहा था वो यहां हो सकता था। 
गहलोत ने कहा कि जो लोग सरकार गिराने के लिए षड्यंत्र में शामिल हैं, वही लोग सफाई दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे यहां उप-मुख्यमंत्री खुद ही डील कर रहे हैं। सरकार के खिलाफ षड्यंत्र में उप-मुख्यमंत्री खुले रूप से शामिल हैं।  

दिल्ली में बैठे कुछ लोग सरकार गिराने की कोशिश कर रहे
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि हमारी सरकार को गिराने की साजिश हो रही है। दिल्ली में बैठे कुछ लोग सरकार गिराने की कोशिश कर रहे हैं। जैसा, उन्होंने कर्नाटक और मध्यप्रदेश में किया, वैसा ही वे राजस्थान में करना चाहते हैं। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली में लोकतंत्र को खत्म करने वाले लोग बैठे हैं। उन्होंने जैसा अन्य राज्यों में किया है, वैसा ही राजस्थान में भी दोहराना चाहते हैं।  

जो हमारे साथ नहीं, वो पैसे ले चुका
सीएम ने कहा कि हमारे विधायकों को पैसे का लालच दिया गया ताकि वे उनकी पार्टी में शामिल हो जाएं और हमारी सरकार गिर जाए। उनके पास धन-बल की कमी नहीं है। उन्होंने यह साफ शब्दों में कह दिया कि जो हमारे साथ नहीं है वो पैसे ले चुका है।  

गहलोत ने कहा कि हमारे कुछ साथी भाजपा के जाल में फंस गए। उन्हें पैसे का लालच दिया गया। उन्होंने कहा कि राजनीति में खरीद फरोख्त ठीक नहीं है। ये लोकतंत्र के लिए खतरा है।  



No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें