बिहार के कैमूर में नौ करोड़ गबन मामले में गोदाम मैनेजर गिरफ्तार #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Tuesday, July 21, 2020

बिहार के कैमूर में नौ करोड़ गबन मामले में गोदाम मैनेजर गिरफ्तार #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

Assistant warehouse manager arrested for embezzlement
भभुआ (कैमूर) : मोहनिया एसएफसी गोदाम के नौ करोड़ सात लाख रुपये का चावल गबन करने के मामले में रिटायर्ड गोदाम मैनेजर को गिरफ्तार किया गया है. यह कार्रवाई एसपी दिलनवाज अहमद के निर्देश पर मोहनिया थाने के सब इंस्पेक्टर श्रीकांत पासवान के द्वारा की गयी है.

गिरफ्तार किये गये पूर्व गोदाम मैनेजर आरा जिले के मुफस्सिल थाना अंतर्गत धोड़ा देव गांव निवासी स्वर्गीय रघुवंश सिंह के पुत्र जनार्दन सिंह बताये गये हैं. यह जानकारी देते हुए एसपी ने प्रेसवार्ता के दौरान बताया है कि राज्य खाद्य निगम कैमूर के जिला प्रबंधक वादी विजय शंकर मंडल के द्वारा लिखित प्रतिवेदन के आधार पर अभियुक्त के विरुद्ध बाजार समिति मोहनिया के गोदाम से 29619.35 क्विंटल सीएमआर जिसकी कुल कीमत करीब नौ करोड़ छह लाख 94 हजार 449 रुपये है, गबन करने का आरोप लगाते हुए मोहनिया थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी.

एसपी ने बताया है कि रिटायर्ड गोदाम प्रबंधक जनार्दन सिंह के ऊपर सीएमआर के रुपये गबन करने के मामले में भभुआ, मोहनिया और चैनपुर थाने में अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. बताया गया है कि आरोपित जनार्दन यादव वर्ष 2016-17 में चैनपुर भभुआ मोहनिया तीनों जगह पर के एसएफसी गोदाम मैनेजर के प्रभार में था.

तीनों जगह उसी के द्वारा देख रेख किया जाता था. इसी बीच उसके द्वारा बड़े पैमाने पर सीएमआर के रुपये गबन किये गये. बताया गया है कि आरोपित ने भभुआ थाना में दर्ज प्राथमिकी के मामले में कोर्ट से जमानत करा ली है. एसपी ने बताया है कि सीएमआर के रुपये गबन करने के मामले में नामजद आरोपित जनार्दन यादव करीब चार वर्षों से फरार चल रहा था.

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें