भारतीय सेना ने गलवां घाटी में बायोनट फाइट से चीनी खेमे में मचाई थी तबाही #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Saturday, July 18, 2020

भारतीय सेना ने गलवां घाटी में बायोनट फाइट से चीनी खेमे में मचाई थी तबाही #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

भारतीय सेना (फाइल फोटो)
15 जून की रात को लद्दाख सीमा पर गलवां घाटी में भारत-चीन सैनिकों के बीच खूनी झड़प को लेकर सिचुएशन रिपोर्ट (स्थिति रिपोर्ट) में कई नई बातें सामने आ रही हैं। भारतीय सैनिकों ने इस दौरान जबरदस्त साहस और ताकत का प्रदर्शन किया था। सेना ने गलवां घाटी में बायोनट फाइट से चीनी खेमे में तबाही मचाई थी। इस दौरान भारतीय सैनिकों ने वॉर क्राई जय बजरंग बली और बिरसा मुंडा की जय के घोष के साथ चीनी सैनिकों पर धावा बोल दिया था। 

15 जून की रात ही बिहार रेजिमेंट ने कर्नल समेत 20 जवानों की शहादत का बदला ले लिया था। इस दौरान आर्टिलरी रेजिमेंट ने भी शौर्य दिखाया था। सैनिकों ने संगीन लगे बंदूक से चीनियों को धूल चटाई थी। कई चीनी सैनिकों की गर्दन तोड़ी थी। इस दौरान चीनी सेना के सीओ समेत तीन अधिकारियों को बंधक भी बनाया था। 

सेना की सिचुएशन रिपोर्ट में उस रात हुई घटना का ब्यौरा दिया गया है। इसमें गलवां नदी पर चीन के बनाए बांध के टूटने का भी जिक्र है। चीनी सैनिकों की मौत के बारे में वहां की सरकार ने अपने देशवासियों के साथ भी जानकारी को साझा नहीं किया। 

रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय सैनिकों ने वॉर क्राई जय बजरंग बली और बिरसा मुंडा की जय के घोष के साथ चीनी सैनिकों पर धावा बोला था। रिपोर्ट में चीनी सैनिकों के गलवां नदी पर एक बांध के खुलने और बहाव में दर्जनों चीनी सैनिकों के बह जाने का भी जिक्र है। यह रिपोर्ट पीएम मोदी के ‘मारते मारते मरे हमारे सैनिक’ वाले बयान की भी तस्दीक करती है जो उन्होंने सर्वदलीय बैठक में दिया था। 

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें