अभिनेता सुशांत के पिता ने ट्वीट कर मांगा न्याय, की सीबीआई जांच की मांग- #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Saturday, July 4, 2020

अभिनेता सुशांत के पिता ने ट्वीट कर मांगा न्याय, की सीबीआई जांच की मांग- #भारत_मीडिया #Bharat_Media

Actor Sushant father tweets, seeks justice, demands CBI inquiry - Patna News in Hindi
पटना । बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत अब इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन उनके कथित आत्महत्या मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग उनके अपने शहर पटना में अब जोर पकड़ती जा रही है। इस बीच, सुशांत के पिता क़े क़े सिंह का एक ट्वीट भी सामने आया है, जिसके जरिए वे भी अपने पुत्र के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं। उन्होंने भी इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग कर रहे हैं।

सुशांत के पिता के ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट में लिखा गया है, "आज मेरे बेटे सुशांत की आत्मा रो रही है और सीबीआई जांच की मांग कर रही है।"

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, "मेरा बेटा सुशांत सिंह राजपूत बहुत बहादुर था। मुझे मालूम है, वो कभी आत्महत्या नहीं कर सकता। उसकी हत्या करके आत्महत्या साबित करने की कोशिश की जा रही है। मैं निवेदन करता हूं कि पूरे मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए।"

इधर, उनके ट्वीट पर लोगों की तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं भी सामने आ रही हैं।

इस बीच, सुशांत के चचेरे भाई और छातापुर के पूर्व विधायक नीरज कुमार सिंह उर्फ बबलू ने आईएएनएस से बातचीत में कहा कि इस मामले की जांच सीबीआई से होनी ही चाहिए। इसकी मांग तो कई संगठनों द्वारा भी की जा रही है। उन्होंने सुशांत के पिता के ट्विटर एकाउंट की भी पुष्टि की।

उल्लेखनीय है कि पटना के रहने वाले सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को कथित रूप से अपने मुंबई के बांद्रा स्थित फ्लैट पर आत्महत्या कर ली थी। इसके बाद से ही विभिन्न सामाजिक संगठनों औ राजनीतिक संगठनों द्वारा पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग हो रही है।

शुक्रवार को फिल्म सेंसर बोर्ड की परामर्शदात्री समिति के पूर्व सदस्य ललन कुमार के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने बिहार के राज्यपाल फागू चौहान से मिलकर सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या मामले की जांच सीबीआई से कराने का आग्रह किया था। प्रतिनिधिमंडल द्वारा राज्यपाल को सौंपे गए ज्ञापन में राजगीर में बन रही फिल्म सिटी का नामकरण उनके नाम से करने के लिए राज्य सरकार को निर्देश देने का आग्रह भी किया गया था।

--आईएएनएस

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें