हमारे देश में जनसंख्या के हिसाब से कोरोना के सबसे कम मामले और मौतें : हर्षवर्धन #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Friday, July 24, 2020

हमारे देश में जनसंख्या के हिसाब से कोरोना के सबसे कम मामले और मौतें : हर्षवर्धन #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

Lowest number of corona cases and deaths in our country by population: Harsh Vardhan - Delhi News in Hindi
नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन ने मीडिया प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, भारत में कोरोना के अब तक 1.25 मिलियन मामले सामने आए और 30,000 से ज़्यादा मौतें हुई हैं। भारत में प्रति मिलियन (प्रति 10 लाख) जनसंख्या के हिसाब से कोरोना के सबसे कम मामले और मौतें हैं। हमारा रिकवरी रेट 63.45% है, जबकि मृत्यु दर 2.3% है।


बता दें कि हमारे देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के सर्वाधिक लगभग 50,000 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिसके साथ देश में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 12,87,945 तक पहुंच गया है और अब तक मरने वालों की संख्या भी 30,000 के पार पहुंच गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों से इनका खुलासा हुआ है। भारत में 740 नई मौतों के साथ कोविड-19 के 49,310 नए मामलों की पुष्टि हुई है। अब तक 30,601 लोग इसकी चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं। रिकवरी दर 63.45 के होने के साथ ही अधिकतम 8,17,209 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं, जो कि 4,40,135 सक्रिय मरीजों की संख्या के लगभग दोगुना है।


भारत महामारी से सबसे अधिक प्रभावित देशों की सूची में तीसरे स्थान पर है। यहां हर तीन दिन में एक लाख की संख्या में मामलों में वृद्धि हो रही है। सोमवार को ही देश ने 11 लाख का आंकड़ा पार कर लिया था और 13 लाख के आकंड़े को पार करने में बस 13,000 मरीज ही कम है।


देश में महाराष्ट्र, तमिलनाड़ु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश और गुजरात जैसे राज्यों से सबसे अधिक संख्या में कोरोना के मरीज पाए गए हैं। महाराष्ट्र की स्थिति सबसे खराब है। यहां संक्रमित मरीजों और हताहतों की संख्या क्रमश: 3,47,502 और 12,854 है। तमिलनाड़ु में कुल मामलों की संख्या 1,92,964 और 3,232 मरीज मारे गए हैं। कर्नाटक नया हॉटस्पॉट राज्य है, यहां संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 80,000 के पार पहुंच गया है।

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें