कमल नाथ का सिंधिया पर बड़ा हमला, कहा- न मैं टाइगर हूं और न ही कभी चाय बेची- #भारत_मीडिया #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Friday, July 3, 2020

कमल नाथ का सिंधिया पर बड़ा हमला, कहा- न मैं टाइगर हूं और न ही कभी चाय बेची- #भारत_मीडिया #Bharat_Media

Neither I am a Tiger nor have I ever sold tea: Kamal Nath - Bhopal News in Hindi
रतलाम/भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने किसी भी नेता का नाम लिए बगैर पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा, "मैं न तो टाइगर हूं और न ही कभी मैंने चाय बेची है।" रतलाम जिले के सैलाना में प्रभु दयाल गहलोत की प्रतिमा के अनावरण समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे कमल नाथ ने अपने ही अंदाज में जवाब दिया। उन्होंने कहा, "मैं महाराजा नहीं हूं, मैं मामा नहीं हूं, मैंने कभी चाय नहीं बेची, मैं तो बस कमल नाथ हूं। कई लोग कहते हैं, मैं टाइगर हूं। मैं तो ना टाइगर हूं, ना पेपर टाइगर हूं, अब यह तो प्रदेश की जनता तय करेगी कि कौन क्या है?"

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक दिन पहले, खुले मंच से पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ व दिग्विजय सिंह पर हमले बोले थे। साथ ही कहा था, "टाइगर अभी जिंदा है। कमल नाथ और दिग्विजय सिंह सुन लें कि टाइगर जिंदा है।"

कमल नाथ ने शिवराज सिंह चौहान पर भी जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, "चौहान अब फिर घोषणाएं करेंगे। साथ ही फोटो की राजनीति शुरू होगी। नौजवानों को इस फोटो की राजनीति को समझना होगा।"

वहीं, पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने भी सिंधिया के बयान पर तंज सका। उन्होंने कहा, "एक टाइगर (शिवराज) पहले से ही मौजूद थे, दूसरा टाइगर (सिंधिया) और पैदा हो गए, आप लोग जनसेवक हैं या नरभक्षी?"

राज्य में कांग्रेस की ओर से सिंधिया पर हमलों की बाढ़ सी आ गई है। उन पर तेज हमले किए जा रहे हैं। उनके टाइगर वाले बयान को लेकर कई तरह के वीडियो भी सोशल मीडिया पर चल रहे हैं।

--आईएएनएस

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें