गंडक का जलस्तर बढ़ने की संभावना को लेकर अलर्ट रहे आपदा विभाग : नीतीश #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Tuesday, July 21, 2020

गंडक का जलस्तर बढ़ने की संभावना को लेकर अलर्ट रहे आपदा विभाग : नीतीश #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

Disaster department alert about the possibility of increase in the level of Gandak: Nitish - Patna News in Hindi
पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नेपाल एवं गंडक नदी के जलग्रहण क्षेत्र में हो रही भारी बारिश के कारण गंडक नदी के जलश्राव (डिस्चार्ज) एवं नदी के जलस्तर में काफी वृद्धि होने की संभावना को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों और संबंधित क्षेत्रों के जिलाधिकारियों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। नीतीश ने आशंका जताते हुए कहा कि भारी बारिश के कारण पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, वैशाली एवं सारण जिले में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

मुख्यमंत्री ने इन क्षेत्रों में भारी बारिश एवं संभावित बाढ़ की स्थिति को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग एवं सभी संबंधित जिलाधिकारियों को पूरी तरह अलर्ट में रहने का निर्देश देते हुए कहा कि गंडक नदी के जलश्राव वाले क्षेत्रों में निचले इलाकों में रहने वाले लोगों का निष्क्रमण कराकर उन्हें चिन्हित ऊंचे एवं सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने की कार्रवाई सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री ने राहत एवं बचाव कार्य के लिए पूरी तरह तैयार रहने का भी निर्देश भी अधिकारियों को दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा, "निष्क्रमित आबादी के बीच सहायता कार्य पूरी तत्परता के साथ करें, जिससे उन्हें किसी प्रकार की कठिनाई का सामना नहीं करना पड़े।"

उन्होंने ऐसे इलाकों में सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का प्रयोग अनिवार्य कराने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए।

मुख्यमंत्री ने उन इलाकों में पशुओं के लिए भी समुचित चारे की व्यवस्था सुनिश्चित करवाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। (आईएएनएस) 

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें