गाजियाबाद में बदमाशों की गोली से घायल पत्रकार की मौत पर राहुल, प्रियंका, ममता की संवेदना, कहा यूपी में हो गया गुंडाराज #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Wednesday, July 22, 2020

गाजियाबाद में बदमाशों की गोली से घायल पत्रकार की मौत पर राहुल, प्रियंका, ममता की संवेदना, कहा यूपी में हो गया गुंडाराज #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

लेफ्ट: पत्रकार विक्रम जोशी, राइट: गिरफ्तार आरोपी
उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में बदमाशों की गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए पत्रकार विक्रम जोशी की मौत हो गयी है। घायल जोशी का गाजियाबाद के नेहरू नगर स्थित यशोदा अस्पताल में इलाज चल रहा था। कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के आलावा पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पत्रकार की मौत पर संवेदना और आक्रोश जताते हुए आरोप लगाया है कि देश भर में डर का माहौल बना दिया गया है।

जोशी को बीते सोमवार की रात बदमाशों ने इसलिए गोली मार दी थी कि क्योंकि उन्होंने भांजी से छेड़छाड़ और अभद्र कमेंट करने वाले युवकों की शिकायत पुलिस से की थी। परिजनों ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने विक्रम की शिकायत को लेकर लापरवाही बरती। इस मामले में गाजियाबाद पुलिस ने अब तक 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

गोली लगने से गंभीर घायल जोशी की हालत नाजुक बनी हुई थी और उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। जोशी ने अस्पताल में उपचार के दौरान आज सुबह करीब चार बजे दम तोड़ दिया। शिकायत के बाद इस मामले में लापरवाही बरतने वाले चौकी इंचार्ज राघवेंद्र को सस्पेंड किया जा चुका है।

इस बीच पत्रकार विक्रम जोशी की मृत्यु होने पर कांग्रेस नेताओं राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने संवेदना और यूपी की लचर  क़ानून व्यवस्था स्थिति पर आक्रोश जताया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा – ”अपनी भांजी के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या कर दी गयी। शोकग्रस्त परिवार को मेरी सांत्वना। वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज।”

कांग्रेस ने भी एक ट्वीट कर कहा – ”भाजपा ने यूपी के साथ दुश्मनों जैसा व्यवहार किया है। वरना भला अपराध को इस स्तर पर कौन पहुंचने देता है। जो हितैषी होता है, वो तो बिलकुल नहीं। बेटी बचाओ का नारा कहीं पीछे छूट गया; अपराध खत्म करने के दावे धराशायी हो गए। ऐसा यूपी तो नहीं चाहिए था किसी को !”

उधर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा – ”एक निडर पत्रकार विक्रम जोशी के परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। अपनी भांजी से छेड़छाड़ करने वालों पर एफआईआर दर्ज कराने के लिए उन्हें यूपी में गोली मार दी गई थी। देश में भय का माहौल हो गया है। आवाजों को दबाया जा रहा है और मीडिया को नहीं बख्शा जा रहा है।”



बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा कि पूरे यूपी में हत्या और महिला असुरक्षा सहित जिस तरह से हर प्रकार के गंभीर अपराधों की बाढ़ लगातार जारी है उससे स्पष्ट है कि यूपी में कानून का नहीं बल्कि जंगलराज चल रहा है अर्थात् यूपी में कोरोना वायरस से ज्यादा अपराधियों का क्राइम वायरस हावी है। जनता त्रस्त है। सरकार इस ओर ध्यान दे।

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें