स्वतंत्रता दिवस 2020 : लाल किले में अदृश्य दुश्मन से ज्यादा खतरा #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Tuesday, August 11, 2020

स्वतंत्रता दिवस 2020 : लाल किले में अदृश्य दुश्मन से ज्यादा खतरा #Bharat_Media

Independence Day: More danger than invisible enemy in Red Fort - India News in Hindi
नई दिल्ली। कोरोना वायरस ने पूरे देश को ग्रसित कर रखा है, जिसका असर 15 अगस्त को होने वाले स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम पर भी दिखाई देगा। इस बार दिल्ली के लालकिले पर होने वाले ध्वजारोहण को लेकर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई है। वहीं, कोरोना जैसे अदृश्य दुश्मन से निपटने के लिए भी तैयारियां की गई हैं। 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लालकिले से झंडा फहराएंगे। इस बार सुरक्षा एजेंसियों के लिए चुनौती दो गुना है, क्योंकि इस बार बाहरी दुश्मन के अलावा कोरोना जैसे अदृश्य दुश्मन से भी ज्यादा खतरा है।

कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार लालकिले में कुछ खास बदलाव किए गए हैं। वहीं कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा व्यवस्था में भी बदलाव किया गया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधीकारी ने आईएएनएस को बताया, करीब 350 पुलिसकर्मी जो कि 15 अगस्त को गार्ड ऑफ ऑनर का हिस्सा होंगे, उन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया है, जिसमें कुछ वरिष्ठ पुलिसकर्मी भी शामिल हैं।

15 अगस्त की परेड में देश के प्रधानमंत्री के अलावा कई और बड़ी शख्सियत शामिल होते हैं। रेड कार्पेट पर गार्ड ऑफ ऑनर के प्रधानमंत्री खुद परेड कमांडर और जवानों के बीच से गुजरते हैं। इसको ध्यान में रखकर यह फैसला लिया गया है।

लाल किले में कार्यरत एक अधिकारी के अनुसार, "सभी तैयारियां को लगभग पूरा कर लिया गया है। साथ ही लालकिले को दिन में 2 बार सेनिटाइज भी किया जा रहा है।"

लालकिले से गुजरने वाले सभी रास्तों पर बीएसएफ, दिल्ली पुलिस के हजारों जवानों को तैनात कर दिया गया है। वहीं सभी चौराहों पर सैकड़ों की संख्या में सीसीटीवी कैमरे लगा दिए गए हैं और कुछ लगना बाकी है, जिन्हें लगाया जा रहा है।

लालकिले के अंदर अब किसी भी आम नागरिक की एंट्री नहीं है। लालकिले में काम करने वाले सभी स्टाफ को एक पास दिया गया है, जिसको दिखा कर ही वो अंदर जा पाएंगे। जिस व्यक्ति के पास विशेष पास नहीं होगा, उसको अंदर जाने की अनुमति नहीं होगी।

स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था के चाक-चौबंद इंतजाम किए हुए हैं। रिहायशी इलाके से लेकर बाजारों तक पुलिस की नजर है। पुलिसकर्मी इलाकों में गश्त भी कर रहे हैं। रात के वक्त बैरिकेड लगाकर वाहनों की जांच भी की जा रही है। (आईएएनएस)





भारत मीडिया के संचालन व् इस साहसी पत्रकारिता को आर्थिक रूप से सपोर्ट करें, ताकि हम स्वतंत्र व निष्पक्ष पत्रकारिता करते रहें .
👉 अगर आप सहयोग करने को इच्छुक हैं तो भारत मीडिया द्वारा दिए इस लिंक पर क्लिक करें -------
cLICK HERE
     

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें