सुशांत सिंह राजपूत के पिता बोले 40 दिन बाद भी मुंबई पुलिस ने कुछ नहीं किया,बिहार विधानसभा में सीबीआई जांच की उठी मांग #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Monday, August 3, 2020

सुशांत सिंह राजपूत के पिता बोले 40 दिन बाद भी मुंबई पुलिस ने कुछ नहीं किया,बिहार विधानसभा में सीबीआई जांच की उठी मांग #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

Sushant Singh Rajputs father said that even after 40 days, Mumbai Police did nothing, raising demand for CBI inquiry in Bihar Assembly - Patna News in Hindi
.पटना। सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने कहा की 25 फरवरी को मैंने बांद्रा पुलिस को आगाह किया था कि मेरे बेटे की जान को खतरा है, 14 जून को जब मेरे बेटे की जान चली गई तो हमने 25 फरवरी में नामित लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा परन्तु 40 दिन बीत जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसके बाद मैंने पटना जाकर थाने में FIR दर्ज की। पटना पुलिस तुरंत एक्शन में आई। परंतु मुजरिम अब भाग रहे हैं, हम सभी को चाहिए कि पटना पुलिस की मदद करें।

इस बीच बिहार विधानसभा का मानसून सत्र सोमवार को पटना विधान मंडल भवन से बाहर ज्ञान भवन में बुलाया गया। विधानसभा में सोमवार को सुशांत सिंह आत्महत्या का मामला गूंजा। सभी दलों के विधायकों ने एक स्वर में सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग की। विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने इस मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की।

विधानसभा में छातापुर विधायक और दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत के भाई नीरज कुमार बबलू ने सदन में इस मामले को उठाते हुए कहा कि महाराष्ट्र पुलिस बिहार पुलिस का साथ नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि ऐसे में जांच बेहतर तरीके से नहीं हो पाएगी।

छातापुर विधायक ने कहा, "महाराष्ट्र पुलिस ने बिहार पुलिस के साथ जिस तरीके से दुर्व्यवहार किया है यह पूरे देश के सामने है।"

उन्होंने कहा कि जिस तरह यहां से जांच करने गई पुलिस टीम के साथ धक्का-मुक्की की गई उसे देश ने देखा है। इसके बाद बिहार पुलिस के आईपीएस अफसर विनय तिवारी को जब जांच के लिए मुंबई भेजा गया तो उन्हें जबरन जानबूझ कर क्वारंटाइन कर दिया गया। उन्होंने कहा कि इससे साफ है कि मुंबई पुलिस द्वारा जांच सही तरीके से नहीं की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए।

इधर, विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने भी विधायक नीरज का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि राजद शुरू से ही सुशांत सिंह राजपूत के परिवार के साथ है।

तेजस्वी यादव ने कहा कि सरकार को इस मामले में गंभीर होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार मामले की लीपापोती कर रही है ऐसे में सरकार को चाहिए कि वह इस पर गंभीरता दिखाए।

उन्होंने कहा कि सरकार भाजपा और जदयू की है। इस मामले की जांच सीबीआई से जांच होनी चाहिए तथा राजगीर में बनने वाली फिल्म सिटी का नाम सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर रखा जाना चाहिए।

सदन में उपस्थित कांग्रेस और जदयू के विधायकों ने भी इस मामले में सीबीआई जांच की जरूरत बताई।

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें