राजस्थान में भाजपा विधायक दल की बैठक गुरुवार को, गहलोत सरकार को घेरने की रणनीति होगी तैयार#Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Wednesday, August 12, 2020

राजस्थान में भाजपा विधायक दल की बैठक गुरुवार को, गहलोत सरकार को घेरने की रणनीति होगी तैयार#Bharat_Media

BJP Legislature Party meeting in Rajasthan on Thursday, strategy will be ready to surround Gehlot government - Jaipur News in Hindi
जयपुर। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनिया ने कहा कि 13 अगस्त को भाजपा प्रदेश कार्यालय में विधायक दल की बैठक आयोजित होगी। उन्होंने कहा कि इस बैठक में केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, राष्ट्रीय सह-संगठन महामंत्री वी. सतीश, राष्ट्रीय महामंत्री मुरलीधर राव, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना विशेष तौर पर विधायक दल की बैठक में उपस्थित रहेंगे।
वहीं डाॅ. पूनिया ने कहा कि 31 दिन तक कांग्रेस आलाकमान नींद में रहा और प्रदेश की जनता मुख्यमंत्री गहलोत की हठधर्मिता एवं तानाशाही कार्यशैली के कारण परेशान है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आलाकमान को राजस्थान की जनता से कोई सरोकार नहीं है, इसलिए कांग्रेस और मुख्यमंत्री गहलोत प्रदेश की जनता के साथ टाइम पास-टाइम पास खेल रहे हंै।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं उनकी सरकार हर मोर्चे पर पूरी तरह फेल हो चुके हैं और किसान कर्ज माफी सहित किये गये तमाम वादों को अभी तक पूरा नहीं किया है, जिससे यह स्पष्ट है कि मुख्यमंत्री प्रदेश की जनता के साथ छलावा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकार के कोरोना कुप्रबन्धन से कोरोना के मामले तेजी से बढ़े रहे हैं, जो चिंताजनक है। बढ़ते अपराधों से प्रदेश अपराधियों की शरणस्थली बनता जा रहा है और जयपुर अपराध की राजधानी बनता जा रहा है।
पत्रकारों द्वारा भाजपा विधायक दल बैठक को लेकर पूछे गये सवाल के जवाब में डाॅ. पूनिया ने कहा कि 13 अगस्त को भाजपा विधायक दल की बैठक में प्रदेश के आमजन से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की जायेगी, सरकार को हर मोर्चे पर घेरने की रणनीति तैयार की जायेगी और हमारे विधायक मुखर होकर सदन में अपनी बात रखेंगे। कांग्रेस के वंशवाद को लेकर पूछे गये सवाल के जवाब में डाॅ. पूनियां ने कहा कि कांग्रेस में वंशवाद एवं परिवारवाद की पुरानी परम्परा चली आ रही है, ।मुख्यमंत्री गहलोत अपने बेटे के राजनैतिक करियर को लेकर हमेशा चिंतित रहते हैं, बेटे के लोकसभा चुनाव हारने के बाद आरसीए में करियर ढूंढ़ा, अभी भी मुख्यमंत्री बेटे को कांग्रेस में बड़ा पद दिलवाने को लेकर चिंतित रहते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में पुत्रमोह की भी पुरानी परम्परा है, कोरोना काल में कांग्रेस सरकार के एक मंत्री के बेटे ने भी कलेक्टर के साथ अधिकारियों की बैठक ली थी।




भारत मीडिया के संचालन व् इस साहसी पत्रकारिता को आर्थिक रूप से सपोर्ट करें, ताकि हम स्वतंत्र व निष्पक्ष पत्रकारिता करते रहें .
👉 अगर आप सहयोग करने को इच्छुक हैं तो भारत मीडिया द्वारा दिए इस लिंक पर क्लिक करें -------
cLICK HERE
     

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें