श्री राम मंदिर का भूमिपूजन होना यह क्षण ऐतिहासिक और भावपूर्ण है :लाल कृष्ण आडवाणी #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Tuesday, August 4, 2020

श्री राम मंदिर का भूमिपूजन होना यह क्षण ऐतिहासिक और भावपूर्ण है :लाल कृष्ण आडवाणी #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

Bhumi Pujan of Shri Ram temple is historical and emotional at this moment: Lal Krishna Advani - Delhi News in Hindi
.नई दिल्ली। अयोध्या में कल राम जन्मभूमि पूजन होने जा रहा है,इसकी पूर्व संध्या पर आज भाजपा के रथ के सारथी रहे लालकृष्ण आडवाणी ने बयान जारी किया।

उन्होंने कहा की जीवन के कुछ सपने पूरा होने में बहुत समय लेते हैं। लेकिन, जब वे चरितार्थ होते हैं तो लगता है कि प्रतीक्षा सार्थक हुई। ऐसा ही एक सपना, जो मेरे हृदय के समीप है, अब पूरा हो रहा है। अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा श्रीराम मंदिर का भूमिपूजन हो रहा है। निश्चय ही, केवल मेरे लिए ही नहीं, बल्कि समस्त भारत समुदाय के लिए यह क्षण ऐतिहासिक है और भावपूर्ण भी।

श्रीराम जन्मभूमि पर श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण भारतीय जनता पार्टी का एक स्वप्न रहा है और मिशन भी। मैं विनम्रता का अनुभव करता हूं कि नियति ने मुझे 1990 में राम जन्मभूमि आंदोलन के दौरान सोमनाथ से अयोध्या तक राम रथ यात्रा का दायित्व दिया। इस यात्रा में असंख्य लोगों की आकांक्षा, ऊर्जा और अभिलाषा को प्रेरित किया।

इस शुभ अवसर पर मैं उन सभी संतों, नेताओं और देश-विदेश के जनमानस के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करता हूं जिन्होंने राम जन्मभूमि आंदोलन में योगदान दिया। मुझे इस बात की भी प्रसन्नता है कि नवंबर 2019 में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राम मंदिर निर्माण का काम शांतिपूर्ण वातावरण में शुरू हो रहा है।

श्रीराम का स्थान भारतीय सभ्यता और संस्कृति में सबसे ऊपर है। वे शिष्टाचार और मर्यादा के मूर्त रूप हैं। यह मंदिर हम सब भारतीयों को श्रीराम के इन गुणों को आत्मसात करने की प्रेरणा देगा। राम मंदिर शांतिपूर्ण भारत का प्रतिनिधित्व करेगा। सबके लिए न्याय होगा और कोई भी बहिष्कृत नहीं होगा। श्रीराम का आशीर्वाद सबको मिले। जय श्रीराम।

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें