Fact Check : क्या खेती में यूरिया के उपयोग पर लगने वाला है बैन ? जानिए सच - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Thursday, August 13, 2020

Fact Check : क्या खेती में यूरिया के उपयोग पर लगने वाला है बैन ? जानिए सच

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार खेती में यूरिया के उपयोग पर बैन करने वाली है। इस दावे के साथ अखबार की एक कटिंग भी शेयर की जा रही है। अखबार में छपी खबर का शीर्षक है- ‘खेती में अब यूरिया का उपयोग बंद करेगी सरकार’।

क्या है वायरल-



वायरल अखबार की कटिंग में लिखा गया है कि यूरिया के खतरनाक परिणामों को देखते हुए केंद्र सरकार खेती में यूरिया के उपयोग को बंद करने की तैयारी कर रही है। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि केंद्र ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर यूरिया के उपयोग को कम करने के निर्देश दिए हैं।

क्या है सच-

वायरल खबर की पड़ताल शुरू करते हुए हमने इंटरनेट पर सर्च किया। लेकिन हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली जिससे पुष्टि हो सके कि मोदी सरकार यूरिया के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने जा रही है।


भारत सरकार की प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो ने भी ट्वीट करते हुए खेती में यूरिया बैन होने वाले दावे को फर्जी बताया है। पीआईबी फैक्ट चेक ट्विटर हैंडल से लिखा गया है- ‘यह दावा फर्जी है! भारत सरकार ने खेती में यूरिया के उपयोग को बंद करने के संदर्भ में कोई निर्णय नहीं लिया है।’

वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत सरकार देश में यूरिया का उत्पादन बढ़ाने जा रही है जिससे चीन पर निर्भरता कम हो सके। केंद्र सरकार यूरिया के पांच बंद पड़े प्लांट्स को 37,971 करोड़ रुपए की लागत से दोबारा शुरू करने जा रही है।

भारत मीडिया ने अपनी पड़ताल में पाया कि खेती में यूरिया के उपयोग पर बैन लगाए जाने वाली वायरल खबर फर्जी है। ----रितिका चौधरी 





भारत मीडिया के संचालन व् इस साहसी पत्रकारिता को आर्थिक रूप से सपोर्ट करें, ताकि हम स्वतंत्र व निष्पक्ष पत्रकारिता करते रहें .
👉 अगर आप सहयोग करने को इच्छुक हैं तो भारत मीडिया द्वारा दिए इस लिंक पर क्लिक करें -------
cLICK HERE
     

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें