एक IPS अधिकारी को क्वारंटाइन हिरासत में अंदर रख दिया। क्या संदेश देना चाहती है महाराष्ट्र सरकार ! शाहनवाज हुसैन #भारत_मीडिया, #Bharat_Media - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Monday, August 3, 2020

एक IPS अधिकारी को क्वारंटाइन हिरासत में अंदर रख दिया। क्या संदेश देना चाहती है महाराष्ट्र सरकार ! शाहनवाज हुसैन #भारत_मीडिया, #Bharat_Media

Put an IPS officer inside quarantine custody What message does the Maharashtra government want to give Shahnavaz hussain - Mumbai News in Hindi
मुम्बई । भाजपा से शाहनवाज हुसैन ने कहा की सुशांत सिंह राजपूत मामले में जांच के लिए जब बिहार से SP विनय तिवारी मुंबई पहुंचे तो उनको क्वारंटाइन करके एक तरह से क्वारंटाइन हिरासत कर दिया। एक IPS अधिकारी को क्वारंटाइन हिरासत में अंदर रख दिया। क्या संदेश देना चाहती है महाराष्ट्र सरकार?

इससे पहले आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी के मुंबई पहुंचने के साथ जबरन क्वारंटीन किए जाने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि हमारे अधिकारी के साथ मुम्बई में जो हुआ, वह सही नहीं है.पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मुंबई गए आईपीएस अधिकारी के साथ जो हुआ वह सही नहीं हुआ। वो अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि हमारे पुलिस महानिदेशक इस मामले में महाराष्ट्र के अधिकारियों से बात करेंगे।


आपको बता दें बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध मौत से जुड़े मामले की जांच को आगे बढ़ाने के लिए बिहार पुलिस ने रविवार को अपने एक तेजतर्रार आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को मुम्बई भेजा। मुम्बई पहुंचकर विनय तिवारी अपना पहला बड़ा कदम उठा पाते उससे पहले ही बीएमसी ने उन्हें क्वारंटीन कर दिया।
बिहार पुलिस के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने अपने आफिशियल ट्वीटर हैंडल से विनय तिवारी को जबरदस्ती क्वारंटीन करने का जिक्र किया है।

पांडेय ने अपने ट्वीट में लिखा, "आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी आज ही पटना से अपनी पुलिस टीम को लीड करने के लिए आधिकारिक ड्यूटी पर मुम्बई पहुंचे लेकिन रात करीब 11 बजे बीएमसी अधिकारियों ने उन्हें जबरन क्वारंटीन कर दिया। इससे पहले उन्हें आईपीएस मेस में जगह नहीं दी गई जबकि उन्होंने कहा था कि वह गोरेगांव के एक गेस्टहाउस में ठहरे हुए हैं।"

विनय तिवारी रविवार दोपहर में मुम्बई पहुंचे थे। हवाई अड्डे पर उनके चार साथियों ने उनकी अगवानी की थी। हवाई अड्डे पर ही तिवारी ने कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले की जांच सही दिशा में आगे जा रही है।

इसके बाद वह अपने चार साथियों के साथ गोरेगांव के एक गेस्टहाउस में गए जहां उनकी साथियों के साथ लम्बी बातचीत हुई। सोमवार को उन्हें बांद्रा जोन-9 के डीसीपी अभिषेक त्रिमुखे से मिलना था। त्रिमुखे ही सुशांत की संदिग्ध मौत के बाद उनसे जुड़ा मामला देख रहे हैं।

अब तिवारी 15 अगस्त तक क्वारंटीन में रहेंगे। बीएमसी ने हालांकि यह नहीं बताया है कि तिवारी को कहां रखा गया है।

--आईएएनएस

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें