हरियाणा पुलिस ने फिरौती मांगने वाले गिरोह के तीन सदस्य को किया गिरफ्तार #BHARAT_MEDIA - Bharat Media Digital Newspaper

Breaking

Saturday, September 5, 2020

हरियाणा पुलिस ने फिरौती मांगने वाले गिरोह के तीन सदस्य को किया गिरफ्तार #BHARAT_MEDIA

Haryana Police arrested three gang members who demanded ransom - Chandigarh News in Hindi
चंडीगढ़ । हरियाणा पुलिस ने नारनौल जिले में भाजपा नेता के बेटे अमित पर गोली चलाने की वारदात करते हुए भय दिखाकर फिरौती मांगने के मामले में एक गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। हमलावरों ने बाइक पर भागने से पहले पीडित से 50 लाख रुपये की फिरौती की मांग की थी।

हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार आरोपी प्रदीप उर्फ अन्ना गिरोह के सदस्य हैं, जिनकी पहचान हिसार जिले के सोमबीर, हांसी के रोहित और धानोता के राकेश के रूप में हुई है।

अमित को एक सप्ताह पहले नारनौल में उसके घर पर नकाबपोशों ने गोली मारकर घायल कर दिया था। मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने जांच शुरू की।

पुलिस ने आदतन अपराधियों के रिकॉर्ड ख्ंागाला और जमानत पर छूटे अपराधियों से भी पूछताछ की गई। पुलिस को 48 घंटे में ही कुछ महत्वपूर्ण सुराग मिले क्योंकि वारदात के मौके पर मिली मोटरसाइकिल को फरार हुए आरोपी हांसी शहर से चुराई हुई थी। जिससे यह पता चला कि बाहरी लोग अपराध में शामिल थे। जैसे ही पुलिस को प्रदीप उर्फ अन्ना के एक नए गिरोह का सुराग मिला, एक रणनीति बनाई गई और आखिरकार पुलिस ने उसके तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया।

शुरुआती जांच में पता चला कि गैंग के सदस्यों ने मोहल्ला नई सराय के रविशंकर गुप्ता से भी फिरौती की मांग की थी।

इस गिरोह का किंगपिन, प्रदीप उर्फ अन्ना, जो गुरुग्राम के झाड़सा का निवासी है, कुछ दिनों से नारनौल शहर में रेकी कर रहा था और फिरौती मांगने की योजना बना रहा था। गिरोह ने इलाके में आतंक फैलाने की योजना बनाई थी। वह चाहता था कि लोगो मे इतनी दहसत फैले की फिरौती मांगते ही लोग रुपये दे दे। इस काम के लिए आरोपी ने बाहर के लडक़ों को ही शामिल करने का प्लान बनाया ताकि पुलिस की गिरफ्त से बाहर रहे और उसने आहिस्ता आहिस्ता 8 से 10 लडक़ो को इस गैंग में शामिल कर लिया जिसमे 2 लडक़े लोकल व बाकी दूसरे जिले के शामिल किए इसके लिए प्रदीप उर्फ अन्ना ने 5-6 उन लोगो को टारगेट किया जिनसे फिरौती मांगी जाए जिससे शहर में दहशत का माहौल बन सके। इसीलिए इन्होंने पहले इन दो से रुपये मांगे ओर इसके बाद औरों से भी फिरौती माँगी जानी थी। इससे पहले ही पुलिस ने वारदात के बाद इस गिरोह का सुराग लगा कर 3 को काबू कर लिया।

हालांकि मुख्य आरोपी प्रदीप अभी फरार है और अन्य सदस्यों सहित उसे गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है।

तीनों आरोपियों को अदालत में पेश किया गया, जहां से सोमबीर को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया, जबकि दो अन्य को जेल भेज दिया गया। आगे की जांच जारी है।




भारत मीडिया के संचालन व् इस साहसी पत्रकारिता को आर्थिक रूप से सपोर्ट करें, ताकि हम स्वतंत्र व निष्पक्ष पत्रकारिता करते रहें .
👉 अगर आप सहयोग करने को इच्छुक हैं तो भारत मीडिया द्वारा दिए इस लिंक पर क्लिक करें -------
cLICK HERE
     

No comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

इस न्यूज़ पोर्टल पर किसी भी प्रकार की सामिग्री प्रकाशन का उद्देश्य किसी की छवि को धूमिल करना या किसी व्यक्ति विशेष की भावनाओं को ठेस पहुँचना बिल्कुल नहीं है। इस पोर्टल पर प्रकाशित किसी भी चलचित्र, छायाचित्र अथवा लेख, समाचार से कोई आपत्ति है तो हमें दिए गए ईमेल पर लिख कर भेजें